अंतरराष्‍ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल होंगी पांच पेट्रोलियम पीएसयू

पेट्रोलियम मंत्रालय ने 8 सितंबर, 2020 को पहले विश्व सौर प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन के दौरान मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के पांच उपक्रमों की कॉरपोरेट भागीदार के रूप में ‘सतत जलवायु कार्रवाई के लिए अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन’ [International Solar Alliance Coalition for Sustainable Climate Action (ISA-CSCA)] में शामिल होने की घोषणा की।

महत्वपूर्ण तथ्य: ओएनजीसी, इंडियन ऑयल (आईओसीएल), भारत पेट्रोलियम निगम लिमिटेड- (बीपीसीएल), हिंदुस्तान पेट्रोलियम निगम लिमिटेड (एचपीसीएल) और गेल इंडिया लिमिटेड आईएसए की समग्र निधि में योगदान देंगे।

  • कार्बन उत्सर्जन कम करने की दिशा में ये कंपनियां नवीकरणीय और जैव ईंधन जैसे हरित ऊर्जा निवेश पर अधिक ध्यान केंद्रित करेंगी।
  • तेल और गैस कंपनियां अपने परिचालन की मूल्य श्रृंखला में सौर पैनल तैनात करने के प्रयास कर रही हैं, और वर्तमान स्थापित सौर ऊर्जा क्षमता 270 मेगावाट है। आगामी वर्ष में अतिरिक्त 60 मेगावाट सौर क्षमता को जोड़ा जाएगा।
  • अगले पांच वर्षों में सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों के स्वामित्व वाले लगभग 50% ईंधन स्टेशनों को सौरीकरण का मिशन शुरू किया गया है। इंडियन ऑयल के 5000 से अधिक ईंधन स्टेशनों को पिछले वर्ष सौर ऊर्जा से संचालित किया गया था।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *