Category: भूगोल

हिमालय का संक्षिप्त वर्णन : लाखों वर्षों से हो रहे इसके निर्माण की व्याख्या

प्रश्न: हिमालय का निर्माण करने वाली पर्वत निर्माण की प्रक्रिया की सचित्र व्याख्या करते हुए, सविस्तार वर्णन कीजिए कि प्रायः […]...

जेट स्ट्रीम की परिभाषा : दक्षिण-पश्चिम मॉनसून, पश्चिमी विक्षोभ तथा चक्रवात में जेट स्ट्रीम की भूमिका

प्रश्न: जेट स्ट्रीम क्या है? वे भारत में वर्षा को किस प्रकार प्रभावित करती हैं? दृष्टिकोण जेट स्ट्रीम की परिभाषा […]...

भूकंपीय तरंगों की परिभाषा : भूकंप विज्ञान (सिस्मोलॉजी) के माध्यम से अध्ययन की जाने वाली विभिन्न प्रकार की तरंगों और इनके अनुप्रयोग

प्रश्न: व्याख्या कीजिए कि कैसे भूकंपीय तरंगों के विश्लेषण से पृथ्वी के आंतरिक भाग की वैज्ञानिक समझ में सुधार आया […]...

महासागरीय जल के घनत्व का एक सामान्य अवलोकन : घनत्व अक्षांश में परिवर्तन के साथ परिवर्तित होता है।

प्रश्न: महासागरीय जल के घनत्व को निर्धारित करने वाले कारकों की पहचान कीजिए। घनत्व के अक्षांशीय वितरण पर चर्चा कीजिए और […]...

मृदा द्रवीकरण की अवधारणा की संक्षिप्त व्याख्या : भूकंपीय घटनाओं के दौरान यह कैसे प्रकट होता है।

प्रश्न: मृदा द्रवीकरण की अवधारणा की व्याख्या कीजिए। उदाहरण प्रस्तुत करते हुए समझाइए कि भूकंपीय घटनाओं के दौरान यह कैसे प्रकट […]...

ओजोन छिद्र निर्माण की परिघटना : बसंत ऋतु के प्रारंभ में अंटार्कटिक क्षेत्र के ऊपर ओजोन छिद्र के निर्माण के कारण

प्रश्न: उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में CFCs के प्रमुख उत्सर्जक होने के बावजूद, ओजोन छिद्र निर्माण की परिघटना मुख्य रूप से ध्रुवीय […]...

एन्सो , मेडेन-जूलियन दोलन एवम हिन्द महासागर द्विध्रुव और भारतीय मानसून पर इनके प्रभावों की व्याख्या

प्रश्न: निम्नलिखित परिघटनाओं और भारतीय मानसून पर उनके प्रभाव का एक संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत कीजिए: (a) ENSO (एन्सो) (b) Madden-Julian […]...

मृदा की गुणवत्ता में क्षेत्रीय भिन्नताओं पर चर्चा : मृदा स्वास्थ्य के ह्रास की रोकथाम खाद्य सुरक्षा की प्राप्ति के लिए अत्यावश्यक

प्रश्न: मृदा स्वास्थ्य के ह्रास की रोकथाम खाद्य सुरक्षा की प्राप्ति के लिए अत्यावश्यक है। मृदा की गुणवत्ता में क्षेत्रीय […]...

जल-दबाव के सन्दर्भ में संक्षिप्त चर्चा : भारत को जल-दबावग्रस्त राष्ट्र बनाने के लिए उत्तरदायी कारक

प्रश्न: उन कारकों का विवरण प्रस्तुत कीजिए जिन्होंने भारत को एक जल-दबावग्रस्त राष्ट्र के रूप में वर्गीकृत होने की ओर […]...

भारतीय उपमहाद्वीप में वर्तमान अपवाह तंत्र (अपवाह प्रणाली) : हिमालयी और प्रायद्वीपीय नदियों की अभिलाक्षणिक विशेषताऐं

प्रश्न: हिमालयी और प्रायद्वीपीय नदियों की अभिलाक्षणिक विशेषताओं पर विशेष बल देते हुए, भारतीय उपमहाद्वीप में वर्तमान अपवाह प्रणाली के विकास […]...
error: Please don\'t copy the content. If you need it for academic purpose, please drop a comment to request the article.