UPSC पाठ्यक्रम – प्रारंभिक परीक्षा

संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा का सिलेबस – प्रारंभिक परीक्षा

आज हम लोग संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा प्रारंभिक (prelims) के सिलेबस (syllabus) को हम हिंदी (hindi) में जानेंगे|

UPSC Prelims Syllabus

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा का सिलेबस 

सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा कुल 400 अंकों की होती है जिसमें सामान्य अध्ययन पेपर (general knowledge paper) प्रथम और सामान्य अध्ययन पेपर द्वीतीय के दो अनिवार्य पेपर होते हैं| यह परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार की होगी। ध्यान रखें, प्रीलिम्स (prelims) केवल एक छंटनी परीक्षा है, इसके अंक पूरी परीक्षा के ओवर आल अंकों में नहीं जोड़े जाते|

आयोग (UPSC) ने प्रीलिम्स (prelims) के सामान्य अध्ययन Paper II (जो बोल-चाल के भाषा में CSAT कहलाने लगा है) में 33% minimum qualifying marks निर्धारित किया है| इसका यह अर्थ यह हुआ कि इसके अंक प्रीलिम्स (prelims) के पूर्णांक में नहीं जोड़े जायेंगे| प्रीलिम्स परीक्षा (prelims exam) के कुल अंकों में केवल पेपर 1 के अंक ही जोड़े जायेंगे|

यदि आप पहले पेपर के मूल्याङ्कन के आधार पर उस साल के कट-ऑफ मार्क्स को पार कर जाते हैं तो सिविल सर्विसेज मेंस परीक्षा (civil services mains exam) में आपका प्रवेश होगा| पर शर्त यही है कि पेपर  में कम से कम 200 का 33% (66 अंक) जरुर लाना होगा नहीं तो मेंस परीक्षा में प्रवेश नहीं मिलेगा|

प्रीलिम्स पेपर 1 का पाठ्यक्रम

(200 अंक)

अवधि: दो घंटे 

  1.  राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय वर्तमान घटनाएं (Current events of national and international importance)
  2. भारत और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन का इतिहास (History of India and Indian National Movement)
  3. भारतीय और वैश्विक भूगोल – भारत और दुनिया का प्राकृतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल (Indian and World Geography – Physical, Social, Economic Geography of India and the World)
  4. भारतीय राजनीति और शासन – संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, अधिकारों के मुद्दे आदि (Indian Polity and Governance – Constitution, Political System, Panchayati Raj, Public Policy, Rights Issues, etc|)
  5. आर्थिक और सामाजिक विकास, सतत टिकने वाला विकास (Sustainable Development), गरीबी, समावेशन( Inclusion), जनसांख्यिकी (Demographics) , सामाजिक क्षेत्र की पहलें (Social Sector initiatives)आदि
  6. पर्यावरण पारिस्थितिकी (Environmental Ecology), जैव विविधता (Bio-diversity) और जलवायु परिवर्तन (Climate Change) पर सामान्य/ज्वलंत मुद्दे
  7. सामान्य विज्ञान (General Science)

UPSC Syllabus for Paper II- (200 marks)

प्रीलिम्स पेपर 2 का पाठ्यक्रम – (200 अंक) अवधि: दो घंटे (यह एक क्वालीफाइंग पेपर होगा जिसमें 33% अंक की जरूरत है) 

  1. बोधगम्यता (Comprehension)
  2. पारस्परिक कौशल—संचार कौशल (Interpersonal skills including communication skills) सहित
  3. तार्किक क्षमता और विश्लेषणात्मक क्षमता (Logical reasoning and analytical ability)
  4. निर्णय लेने और समस्या को विश्लेषण की क्षमता (Logical reasoning and analytical ability)
  5. सामान्य मानसिक योग्यता (General mental ability)
  6. बेसिक संख्यात्मक योग्यता, संख्याएँ और उनमें आपसी-संबंध (numbers and their relations, orders of magnitude, आदि) (दसवीं कक्षा के स्तर का), डेटा इंटरप्रिटेशन Data interpretation (चार्ट, ग्राफ, टेबल, डेटा पर्याप्तता (data sufficiency) आदि – दसवीं कक्षा के स्तर का)।

नेगेटिव मर्किंग (1/3 or 0|33%)

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *