Discuss the contribution of civil society groups to women’s effective and meaningful participation and representation in state legislatures in India.

भारत में राज्य विधायिकाओं में महिलाओं की प्रभावी एवं सार्थक भागीदारी और प्रतिनिधित्व के लिये नागरिक समाज समूहों के योगदान […]...

Explain the changes in cropping patterns in India in the context of changes in consumption patterns and marketing conditions

खपत पैटर्न एवं विपणन दशाओं में परिवर्तन के संदर्भ में, भारत में फसल प्रारूप (क्रॉपिंग पैटर्न) में हुए परिवर्तनों की […]...

Explain the constitutional perspectives of Gender Justice with the help of relevant Constitutional Provisions and case laws.

प्रासंगिक संवैधानिक प्रावधानों और निर्णय विधियों की मदद से लैंगिक न्याय के संवैधानिक परिप्रेक्ष्य की व्याख्या कीजिए । (250 words) […]...